करोड़ खर्च के बाद भी खेलने योग्य नहीं बन सका मिनी स्टेडियम,खिलाड़ी खेलने योग्य बनाने के लिए कर रहे हैं श्रमदान

0
1185

मुलताई- करोड़ों रुपए खर्च किए जाने के बावजूद भी नगर का एकमात्र हाई स्कूल ग्राउंड मिनी स्टेडियम खिलाड़ियों के खेलने के योग्य नहीं हो सका है। एक नया परिंदा फाउंडेशन के अध्यक्ष शुभम पंडाग्रे एवं उपाध्यक्ष राबिन सिंह परिहार अंतर राज्य क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन कर रहे हैं

ग्राउंड की बदहाल स्थिति को देखकर खिलाड़ी मिलकर अपने श्रम एवं संगठन की राशि से ग्राउंड को खेलने योग्य बनाने का प्रयास कर रहे हैं। किंतु खिलाड़ियों में नगर पालिका के रवैया को लेकर रोष भी है।

दूसरी ओर खिलाड़ियों के लिए बनाए गए कक्ष पर नगरपालिका के ठेकेदार का कब्जा है.जहां पर ठेकेदार के वाहन और मजदूर झोपड़ी बनाकर रहते हैं चौका देने वाला तथ्य यह भी है कि ठेकेदार ने यहां मुरम मिट्टी मलबा तक अपने उपयोग के लिए जमा करके रखा है । इसको लेकर खिलाड़ियों में रोष है।

निर्माणाधीन काल में  ही खराब हो रहे खिलाड़ी कक्ष

खिलाड़ी बताते हैं कि नगर पालिका जोकि मिनी स्टेडियम की मात्र निर्माण एजेंसी है कई वर्षों बाद भी निर्माण पूर्ण करा के खिलाड़ियों के लिए खेलने योग्य ग्राउंड बनाना तो दूर अलबत्ता सीवर लाइन प्रोजेक्ट के ठेकेदार के पजेशन में देकर एकमात्र खेल मैदान का दुरुपयोग करवा रही है। रॉबिन परिहार बताते हैं कि  निर्माण एजेंसी नगरपालिका ने अभी खेल और युवा कल्याण विभाग के अधिपत्य में दिया भी नहीं है उसके पहले ही निर्माणाधीन कमरे और ग्राउंड की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है।

मिनी स्टेडियम पर हमेशा होगा विद्यालय का अधिकार

पूर्व में यह खेल मैदान ,हाई स्कूल ग्राउंड भूमि ,उत्कृष्ट विद्यालय एवं वर्तमान में सीएम राइज के अधिपत्य में थी जिसे विद्यालय में खेल और युवा कल्याण विभाग को इस शर्त पर दी थी कि मिनी स्टेडियम निर्माण के बाद इस खेल मैदान का स्वामित्व अधिकार उत्कृष्ट विद्यालय का होगा। खेल और युवा कल्याण विभाग ने मिनी स्टेडियम निर्माण के लिए नगर पालिका को एजेंसी बनाया था जिस नगर पालिका को समय सीमा में स्टेडियम में कार्य पूर्ण कराकर इसे खेल और युवा कल्याण को सौंपना था।

खेल शिक्षक महेश खत्री बताते हैं कि उक्त खेल भूमि को विद्यालय ने खेल और युवा कल्याण विभाग को इस शर्त पर ही दी थी कि अधिपत्य उत्कृष्ट विद्यालय का होगा हमारा अधिपत्य है किंतु बीते कुछ वर्षों से नगरपालिका इसका व्यवसायिक उपयोग करने के पहले हम को सूचना देना भी आवश्यक नहीं समझती।

इनका कहना

हमने इसके पहले भी पत्र लिखकर मिनी स्टेडियम के पजेशन एवं स्टेडियम के कक्ष एवं ग्राउंड की स्थिति से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया था अब हम और पत्र लिख रहे हैं।
संदीप गणेश
प्रभारी प्राचार्य सीएम राईज विद्यालय मुलताई

हमने इससे पहले भी मिनी स्टेडियम के निर्माण पूर्णता एवं पजेशन सहित समस्याओं से वरिष्ठ अधिकारी और जिला अधिकारी को अवगत कराया है। वरिष्ठ अधिकारियों फिर पत्र लिखेंगे।
हेमंत विश्वकर्मा समन्वयक खेल और युवा कल्याण विभाग प्रभारी मुलताई बैतूल


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here