डॉक्टर और कलेक्टर बनना चाहती है दिव्यांग छात्रा साहिबा एवं प्रिया,विश्व दिव्यांग दिवस पर शाला ने किया सम्मान

0
376

मुलताई – न्यू कार्मल कान्वेंट स्कूल ने दो दिव्यांग छात्रा साहिबा एवं प्रिया को कक्षा नर्सरी में प्रवेश दिया गया था और उनकी पूरी पढ़ाई की जिम्मेदारी शाला द्वारा ली गई थी। आज दोनों छात्राएं कक्षा 9वी में अध्यनरत है। और कलेक्टर और डॉक्टर बनकर समाज और दिव्यांग जनों की सेवा करना चाहती है।

विश्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर  न्यू कार्मल कान्वेंट हायर सेकेंडरी स्कूल में दिव्यांग विद्यार्थियों का सम्मान किया गया। इस अवसर पर  कक्षा 9वी में अध्ययनरत छात्रा साहिबा शेख एवं प्रिया करदाते को संस्था अध्यक्ष संचना जैन एवं शाला प्राचार्य विनीता नायर ने पुष्प गुच्छ एवं प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया । समारोह को संबोधित करते हुए छात्रा साहिबा ने कहा कि वह बड़े होकर कलेक्टर बनना चाहती है वही प्रिया करदाते ने कहा कि वह डॉक्टर बनकर दिव्यांग भाई बहनों की सेवा करना चाहती है।

आयोजन के विषय में शाला के संचालक अनीष नायर ने बताया कि विश्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर शाला में अध्यनरत दिव्यांग विद्यार्थियों के उत्साहवर्धन के लिए उनका सम्मान समारोह आयोजित किया गया।

उन्होंने बताया कि शाला में अध्ययनरत साहिबा एवं प्रिया को कक्षा नर्सरी में प्रवेश दिया गया था और उनकी पूरी पढ़ाई की जिम्मेदारी शाला द्वारा ली गई थी। आज दोनों छात्राएं कक्षा 9वी में अध्यनरत है। आयोजन के दौरान संचालक नायर ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि हमें किसी को दिव्यांग नही समझना  है सबको साथ लेकर चलना है और किसी भी तरह का भेदभाव हमारे मन मस्तिष्क में नहीं आना चाहिए। उन्होंने बताया कि ऐसे कई दिव्यांग है जिन्होंने ऐसे महान एवं ऐतिहासिक कार्य किए हैं जो एक सामान्य व्यक्ति नहीं कर सकता। आज समाज के हर व्यक्ति को दिव्यांगों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलना है। आयोजन में विशेष रूप से संस्था में कार्यरत दिव्यांग विशेषज्ञ जया शर्मा उपस्थित रही जिन्होंने दिव्यांग विद्यार्थियों के विषय में महत्वपूर्ण जानकारी विद्यार्थियों को दी। आयोजन में शाला में अध्ययनरत लगभग 900 विद्यार्थी उपस्थित रहे वही 40 शिक्षक शिक्षिकाओं ने भी सहभागिता की।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here