किसान संघर्ष समिति की  नफ़रत छोड़ो, संविधान बचाओ पदयात्रा का दूसरा दिन,महिलाओं ने कहां नशे से  बर्बाद हो रही युवा पीढ़ी

0
201

मुलताई किसान संघर्ष समिति अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक डॉ सुनीलम की अगुवाई में चल रही “नफरत छोड़ो, संविधान बचाओ अभियान” पदयात्रा  दूसरे दिन डिवटिया, कान्हा बघोली, निरगुड़, सुकाखेड़ी, एनस होकर जूनापानी पंहुची।

पदयात्रा के माध्यम से ग्रामीणों को संबोधित करते हुए डॉ.सुनीलम ने कहा कि सरकारी रिकॉर्ड में 15 करोड़ किसान परिवार है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लागू होने पर पहली किस्त के रूप मे 11.84 करोड़ किसान परिवारों को सम्मान निधि की राशि मिली लेकिन पिछली बार 11 वीं किस्त के रूप में 3.87 करोड़ किसान परिवारों को ही लाभ मिला है। उन्होंने बताया कि 67प्रतिशत किसान परिवारों को किसान सम्मान निधि की राशि  नहीं मिली है।  स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण करने के बाद भी उनके  खाते में पैसा नहीं आया है।

गांव की महिलाओं ने बताया कि शराब के सेवन से युवा पीढ़ी का जीवन बर्बाद हो रहा है। सुबह से शाम तक युवा नशे में धूत रहते हैं।

कान्हा बघोली, सुकाखेड़ी  के ग्रामवासियों ने बताया कि इटारसी-विजयवाड़ा फ्रेट कॉरीडोर का सेटेलाइट सर्वे होने की खबरें समाचार पत्रों द्वारा प्राप्त हुई है जिसमें बैतूल जिले के 88 गांव के सैकड़ों किसानों की उपजाऊ भूमि का अधिग्रहण किया जाएगा। ग्रामीणों ने कहा कि सरकार रोजगार तो दे नहीं रही है बल्कि उल्टे किसानों को उनकी भूमि से बेदखल किया जा रहा है।

सुखाखेड़ी के किसानों ने बताया कि चन्नी मन्नी बांध में दरार पड़ने पर सिंचाई विभाग ने कोई मरम्मत नहीं की, विभाग की लापरवाही से पानी व्यर्थ बह रहा है। सिंचाई का बहुत कम पानी बचा है। इससे किसानों की सिंचाई अधूरी रह जाएगी। पदयात्रा में ग्राम परमंडल से यशोदा बाई सिमैया, देवकी डडोरे, शारदा राऊत, ललीता पठाड़े, लल्ली पंवार, गीता हारोड़े, दुलारी बुआड़े, कमल पंवार तथा समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष कृपाल सिंह सिसोदिया, डिवटिया के पूर्व सरपंच लक्ष्मण परिहार, शत्रुघ्न यादव, चैनसिंह सिसोदिया, सीताराम नरवरे, हेमराज देशमुख, सहदेव मंडलेकर, अकलेश पठाड़े एवं भागवत परिहार आदि शामिल रहे।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here