ना डॉक्टर, ना दवाई, ना पीने का पानी ऐसा है प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दुनावा

0
589

प्रकाश सूर्यवंशी

दुनावा- प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में दवाई डॉक्टर और कर्मचारी उपलब्ध होना तो दूर पीने के पानी तक की व्यवस्था नहीं है। कुल मिलाकर के स्वास्थ्य केंद्र नाम मात्र के लिए है इसका लाभ ग्रामीणों को नहीं मिल पा रहा है।

दुनावा स्वास्थ्य केंद्र की इन समस्याओं से ग्रामीणों ने हाल ही में पदस्थ  बी.एम.ओ. डॉ अभिनव शुक्ला को अवगत कराया। डॉक्टर शुक्ला ब्लॉक स्वास्थ्य अधिकारी नियुक्त होने के बाद पहली बार दुनावा पहुंचे थे। ग्रामीणों ने उन्हें लिखित शिकायत करते हुए बताया कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में 6 माह से डॉक्टर नहीं है ,दवाइयां भी पूर्ण रूप से उपलब्ध नहीं है, मरीज और उनके परिजन के लिए पीने के पानी की व्यवस्था भी नहीं है एवं स्वास्थ्य कर्मचारी समय पर उपलब्ध नहीं रहते हैं जिससे लोग मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

बीएमओ डॉ अभिनव शुक्ला ने दुनाव अस्पताल में मौजूद ओ.पी.डी. रजिस्टर भी चेक किया और अस्पताल में पदस्थ सभी कर्मचारियों को चेतावनी दी कि लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

दुनावा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कुल 6 लोगों का स्टाफ है जिसमें संध्या मंडलोई एवं नेहा पटले (स्टाफ नर्स) अमित सोनी (फार्मासिस्ट) कविता पाटिल (ए. एन. एम .)शुभम बारंगे (एल.टी.) संजय नारनवरे( वार्ड बॉय)। दुनावा पी.एस.सी. के अंतर्गत लगभग 20 गांव आते हैं लेकिन दुनावा अस्पताल सुविधा नहीं के बराबर है। डॉक्टर शुक्ला ने बताया कि दुनावा अस्पताल हेतु डॉक्टर की व्यवस्था के लिए उच्च अधिकारी को पत्र भिजवा दिया गया है कुछ ही दिनों में डॉक्टर उपलब्ध हो जाएगा, उन्होंने कर्मचारियों से कहा कि अस्पताल में दवाई नहीं होने पर डिमांड लेटर दिया जाना चाहिए। दुनावा सरपंच नीलम पलाश कड़वे ने कहा कि यदि जल्द से जल्द अस्पताल के लिए उक्त व्यवस्था नहीं होती है उच्च अधिकारियों से शिकायत करेंगे तत्पश्चात अस्पताल में मरीजों की व्यवस्था के लिए आंदोलन भी कर सकते हैं।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here